Cryptocurrency में पैसा लगाने वालों के लिए अच्‍छी खबर! WazirX पर सीधे जुड़ेंगे खरीदार-विक्रेता, जानें कैसे

0
156
Cryptocurrency में पैसा लगाने वालों के लिए अच्‍छी खबर! WazirX पर सीधे जुड़ेंगे खरीदार-विक्रेता, जानें कैसे


नई दिल्‍ली. भारत समेत पूरी दुनिया में करोड़ों लोग क्रिप्‍टोकरेंसी (Cryptocurrency) में निवेश कर रहे हैं. ऐसे में क्रिप्‍टो-एक्‍सचेंज (Crypto-Exchange) भी खरीद-फरोख्‍त को आसान बनाने के लिए नई-नई सुविधाएं जोड़ रहे हैं. इसी कड़ी में क्रिप्‍टोकरेंसी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म वजीर-एक्‍स (WazirX) जल्द ही डीसेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज लॉन्च करेगा. ये उन कस्टमर्स के लिए होगा, जो अपनी क्रिप्‍टोकरेंसी की कस्टडी अपने ही पास रखना चाहते हैं. डीसेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज ऐसे मार्केटप्लेस होते हैं, जहां क्रिप्टोकरेंसी के खरीदार और विक्रेता सीधे जुड़ सकते हैं. इसमें सेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज बिचौलिया के तौर पर नहीं होता. ट्रेडर्स को अपने फंड्स के लिए एक्सचेंज पर भरोसा करने की जरूरत नहीं रह जाती.

वजीर-एक्‍सचेंज ने लॉन्‍च किया पहला एनएफटी
वजीर-एक्‍स के संस्‍थापक निश्‍चल शेट्टी ने बताया कि WazirX सेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज है. हमारे काफी ग्राहक सेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज नहीं चाहते. ऐसे में हम उनके लिए डीसेंट्रलाइज्ड एक्सचेंज बना रहे हैं. इसकी शुरुआत को लेकर जल्द घोषणा की जाएगी. बिनांस (Binance) की हिस्सेदारी वाले वजीर-एक्‍स ने मई 2021 में दक्षिण एशिया का पहला नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) मार्केटप्लेस लॉन्च किया था. इसमें डिजिटल आर्टिस्ट्स, कैनवास आर्टिस्ट्स, स्ट्रीट आर्टिस्ट्स और विजुअल आर्टिस्ट्स जैसी कई कैटेगरी से क्रिएटर्स जुड़े हैं. प्रत्येक एनएफटी अलग होता है और इसे क्रिप्‍टोकरेंसी की तरह ट्रेड नहीं किया जा सकता. शेट्टी ने बताया कि इस प्लेटफॉर्म को अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है.

ये भी पढ़ें- भारत ने विवाद के बाद भी चीन को भेजा कुल निर्यात का आधा कपास, देश से 98 करोड़ किग्रा कॉटन हुआ एक्‍सपोर्ट

#IndiaWantsCrypto कैंपेन को हुए 1000 दिन
शेट्टी की ओर से शुरू किए गए #IndiaWantsCrypto ट्विटर कैंपेन ने बुधवार को 1,000 दिन पूरे कर लिए हैं. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ओर से देश के बैंकों पर क्रिप्‍टो-एक्सचेंजों के साथ बिजनेस करने पर रोक लगाने के बाद यह कैंपेन शुरू किया गया था. इसका उद्देश्य क्रिप्‍टोकरेंसी के बारे में सही जानकारी उपलब्‍ध कराना था. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने जून 2021 में वजीर-एक्‍स और इसके निदेशकों को फेमा कानून (FEMA) के कथित उल्लंघन के कारण नोटिस जारी किया था. शेट्टी ने बताया कि वे जांच एजेंसी के साथ सहयोग कर रहे हैं और नोटिस का जवाब दिया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here