1971 में पाक के साथ हुए युद्ध में भारतीय वायु सेना की अहम भूमिका : भदौरिया

0
139
1971 में पाक के साथ हुए युद्ध में भारतीय वायु सेना की अहम भूमिका : भदौरिया


नयी दिल्ली.  वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया (RKS Bhadauria) ने बुधवार को कहा कि भारतीय वायुसेना (Indian air force) ने 1971 की भारत -पाकिस्तान की लड़ाई (india pakistan war) में दुश्मन के आक्रमण और इसके बलों को छिन्न-भिन्न कर अहम भूमिका निभायी. वायुसेना प्रमुख ने ‘‘भारत-पाक युद्ध के 50 साल: आसमान में जीत’’ विषयक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए 1971 की लड़ाई में हिस्सा ले चुके पूर्व सैनिकों के प्रति आभार प्रकट किया एवं उनकी तारीफ की. उन्होंने कहा कि उनकी मौजूदगी में संबोधन देना उनके लिए असाधारण सम्मान है. इस संगोष्ठी का आयोजन सेंटर फॉर एयर पावर स्टडीज ने किया था.

वायुसेना ने एक बयान में बताया कि 1971 के भारत पाक युद्ध के घटनाक्रम को याद करते हुए एयर चीफ मार्शल भदौरिया ने युद्ध रणनीति पर अपने विचार प्रकट किए. साथ ही इसके संयुक्त अनुप्रयोग के पहलुओं पर विस्तार से बातें रखीं जो शानदार जीत हासिल करने में अहम रहीं. बयान में कहा गया है, ‘‘ वायुसेना प्रमुख ने वायु अभियान के अहम पक्षों का जिक्र किया एवं शत्रु, उसके सैन्यबलों के आक्रमण को छिन्न-भिन्न करने में वायुसेना द्वारा निभायी गयी अहम भूमिका को याद किया.’’

ये भी पढ़ें :  मैसूर: बॉयफ्रेड के साथ गई छात्रा के साथ लुटेरों ने किया गैंगरेप, सीएम ने दिए जांच के आदेश

ये भी पढ़ें : भाईचारे, साम्प्रदायिक सौहार्द को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है : महबूबा

भदौरिया ने बांग्लादेश की वायुसेना की किलो फ्लाईट के अहम सदस्यों में एक स्वाधीनता पदक , बीर उत्तम (सेवानिवृत) ग्रुप कैप्टन शम्सुल आलम के योगदान को सराहा एवं इस संगोष्ठी में डिजिटल तरीके से हिस्सा लेने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया.

उन्होंने कहा कि भारत और भारतीय वायुसेना इस जिम्मेदारी से पूरी तरह अवगत हैं कि कोई प्राकृतिक आपदा पड़ने पर वो मित्र देशों और सहयोगियों की मदद के लिए हमेशा तैयार हैं. अपनी एयरलिफ्ट क्षमताओं के कारण भारतीय एयरफोर्स मानव सेवा मिशन में बेहद अग्रणी और क्षमतावान है. उन्होंने कहा है कि आज हमारे पास निर्बाध एयर स्पेस सर्विलांस क्षमता मौजूद है और इसे हमारे देश की इंडस्ट्री ने तैयार किया है. उन्होंने कहा कि स्वदेशी निर्माण की क्षमता बढ़ाने के लिए सरकार ने कई सुधारवादी कदम उठाए हैं. उन्होंने कहा कि सरकार ने नीति में कई परिवर्तन किए जिससे साझा कार्यक्रम के तहत नए जेनेरेशन की तकनीक देश में ही तैयार हो रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here