इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के लिए भी जरूरी हुआ इंश्योरेंस, जानिए कैसे चुनें बेहतर कवरेज

0
97
इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के लिए भी जरूरी हुआ इंश्योरेंस, जानिए कैसे चुनें बेहतर कवरेज


electric scooters Insurance : देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड तेजी से बढ़ रही है. जिसकी सबसे बड़ी वजह पेट्रोल की बढ़ती कीमत और इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर मिलने वाली सब्सिडी है. अगर बीते साल में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की डिमांड को देखें तो आने वाले दिनों में इनकी डिमांड में और तेजी आने की उम्मीद है.

सीआईआई-केपीएमजी की रिपोर्ट के अनुसार 2030 तक देश में 25 से 35 फहसदी दोपिया वाहन इलेक्ट्रिक होंगे. ऐसे में ओला जैसी कई दूसरी कंपनियों ने भविष्य को ध्यान में रखकर इलेक्ट्रिक टू-वहीलर्स का उत्पादन बढ़ाने का फैसला किया है. वहीं दूसरे टू-व्हीलर्स की तरह इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर का इंश्योरेंस भी आपके साथ आपके वाहन को सुरक्षित रखता है. इसलिए ये जानान बेहतद जरूरी है कि इलेक्ट्रिक बाइक्स और स्कूटर्स के लिए कौन सी पॉलिसी बेहतर होगी.

यह भी पढ़ें: 2021 Tata Tiago NRG इंडिया में लॉन्च हुई, यहां देखें डिजाइन, फीचर्स और भी बहुत कुछ

दूसरे वाहनों की तरह ही होगा इंश्योरेंस – इंश्योरेंस कंपनी HSBC के अधिकारी आंशु सारास्वत ने बताया कि, इलेक्ट्रिक बाइक्स और स्कूटर्स को मोटर इंश्योरेंस प्लान के तहत ही इंश्योर्ड किया जाता है. जो थर्ड पार्टी या विस्तृत होतो है. उन्होंने बताया कि, थर्ड पार्टी कवरेज मोटर वेहिकल्स एक्ट, 1988 के तहत थर्ड पार्टी की मृत्यु, उसके घायल होने या उसकी प्रापर्टी के नुकसान को कवरेज देने के लिए जरूरी है. यहां ध्यान रखें कि कांप्रेहेंसिव कवरेज (व्यापक कवरेज) के तहत पांच साल के थर्ड पार्टी कवरेज मिलता है लेकिन खुद के लिए सिर्फ एक साल का कवरेज मिलता है यानी कि थर्ड पार्टी कवरेज तो पांच साल तक जारी रहेगा लेकिन अपने किसी नुकसान के लिए हर साल पॉलिसी का नवीनीकरण कराना होगा.

यह भी पढ़ें: Volkswagen Taigun SUV की बुकिंग आज से होगी शुरू, जानिए कैसे करें बुक

कौन सी पॉलिसी का करें चुनाव
आंशु सारास्वत के मुताबिक जब आप नई इलेक्ट्रिक बाइक/स्कूटर खरीदें तो कम से कम पांच वर्षों के लिए थर्ड पार्टी कवरेज लें जोकि अनिवार्य भी है. थर्ड पार्टी के तहत संपत्ति के नुकसान के लिए 7.5 लाख रुपये का कवर मिलता है. हालांकि मृत्यु व शारीरिक क्षति के लिए असीमित कवरेज मिलता है.

आंशु के अनुसार ग्राहकों को एक व्यापक प्लान लेना चाहिए ताकि थर्ड पार्टी कवरेज के अलावा इलेक्ट्रिक बाइक/स्कूटर्स को बाढ़, भूकंप, चक्रवात, तूफान जैसी प्राकृतिक आपदा या आग; विस्फोट, दंगे जैसी मानवीय आपदा; गाड़ी की चोरी और सड़क, ट्रेन, हवा या पानी से परिवहन के दौरान किसी क्षति को लेकर कवरेज हासिल किया जा सके.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here