Punjab News: अपनी ही सरकार के खिलाफ फिर सिद्धू ने साधा निशाना, नशे के मुद्दे पर सीएम अमरिंदर सिंह पर दागे सवाल

0
177
Home


नई दिल्ली: सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) के साथ लंबी तकरार के बाद अब नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu ) पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष है. अध्यक्ष बनने के बाद से उनके अंदाज काफी अलग नजर आ रहे है और वे एक्टिव मोड में भी दिख रहे हैं. सिद्धू ने एक बार फिर से पंजाब सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट पंजाब सरकार के सामने एक के बाद एक सवालों की झड़ी लगा दी. इस बार उन्होंने नशे के मुद्दे पर सरकार से सवाल पूछे हैं.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट करके कहा कि फरवरी 2018 में, एडीजीपी हरप्रीत सिद्धू की अध्यक्षता में एसटीएफ ने पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय में “स्टेटस रिपोर्ट” दायर की, जिसमें ईडी द्वारा दर्ज किए गए बयानों और सबूतों की जांच की गई, जो कि बिक्रमजीत सिंह मजीठिया और अन्य मादक पदार्थों की तस्करी में शामिल होने के मामले में माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किए गए थे.

जनता को और कितना इंतजार करना होगा

उन्होंने कहा कि मैंने 2018 में प्रेस कॉंन्फ्रेंस करके सरकार से एसटीएफ द्वारा कोर्ट में रखी गई जानकारी पर तुरंत कार्रवाई करने की अपील की थी. उन्होंने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय ने पंजाब सरकार को एसटीएफ रिपोर्ट पर कानून के अनुसार आगे बढ़ने के निर्देश दिए थे. 23 मई 2018 को सरकार ने कोर्ट ओपिनियन-कम-स्टेटस रिपोर्ट के समक्ष दायर किया जो अभी भी सीलबंद लिफाफे में बंद है. ढाई साल की देरी के बाद पंजाब की जनता को और कितना इंतजार करना चाहिए?

उन्होंने पूछा कि इस पूरे मामले पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस ने क्या जांच की थी. इस बात को पूरी तरह से जनता के सामने रखा जाए. सरकार ने रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद ढाई वर्षों में क्या कार्रवाई की. सरकार को पारदर्शिता रखनी चाहिए और उसे जनता के प्रति जवाब देह होना चाहिए.

ये मामला पंजाब के युवाओं को प्रभावित करने वाला

उन्होंने कहा कि इस तरह के मामले पंजाब के युवाओं के जीवन को प्रभावित कर रहे हैं और इस मामले पर माननीय न्यायालय द्वारा पिछले ढाई वर्षों में कोई ठोस आदेश पारित नहीं किया गया है. सरकार को चाहिए कि वह मजीठिया के खिलाफ मामले को जल्द से जल्द निष्कर्ष तक पहुंचाने के लिए याचिका दायर करे, ताकि दोषियों को सजा दी जा सके.

क्रिकेटर से राजनेता बनने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट में लिखा कि 18 सूत्री एजेंडा के तहत नशीली दवाओं के व्यापार के दोषियों को दंडित करना कांग्रेस की प्राथमिकता है. मजीठिया पर क्या कार्रवाई हुई है? जबकि सरकार उसी मामले से जुड़े अनिवासी भारतीयों के प्रत्यर्पण की मांग करती है. उन्होंने कहा कि यदि इस मामले में कोई उचित कदम नहीं उठाया गया और देरी होती है तो रिपोर्ट को सार्वजनिक करने के लिए पंजाब विधानसभा में प्रस्ताव लाया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here