दुर्ग जा रही अप सारनाथ एक्सप्रेस ट्रेन चलते-चलते बंट गई दो हिस्सों में, जानें फिर क्या हुआ...
Advertisement
Advertisement


गाजीपुर. करीमुद्दीनपुर क्षेत्र में छपरा से दुर्ग जाने वाली 05159 अप सारनाथ एक्सप्रेस करीमुद्दीनपुर स्टेशन पर पहुंचने के पहले आउटर सिग्नल के पास दो भाग में बंट गई. इसका पता चलते ही ट्रेन के चालक और गार्ड ने ट्रेन रोक दी और फिर ट्रेन को पीछे लाकर टूटे हुए भाग को जोड़ा और तब ट्रेन करीमुद्दीनपुर स्टेशन के लिए चली.

कॉलिंग वैक्यूम टूट गया था

छपरा से चलकर दुर्ग को जाने वाली 05159 अप सारनाथ एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय से चल रही थी. इस ट्रेन का अगला ठहराव करीमुद्दीनपुर रेलवे स्टेशन पर था. जैसे ही यह ट्रेन करीमुद्दीनपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी पैनल के आउटर सिग्नल को क्रॉस कर आगे बढ़ी, तभी चलती ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई. इस ट्रेन की बोगी संख्या 18818 व 18125 के बीच का कॉलिंग वैक्यूम टूटकर पाइप सहित अलग हो गया. ऐसा होते ही अगला हिस्सा पिछले हिस्से को छोड़कर लगभग डेढ़ सौ मीटर आगे निकल गया. इसकी जानकारी जैसे ही ट्रेन के गार्ड आनंद कुमार को हुई, उन्होंने इसकी सूचना चालक को दी. चालक ने ट्रेन रोककर उसे फिर पीछे की ओर लाया और टूटे हुए हिस्से को जोड़कर फिर स्टेशन पर ट्रेन ले गया. इस बीच करीमुद्दीनपुर रेलवे स्टेशन पर यह ट्रेन अपने निर्धारित समय से लगभग आधे घंटे देर से पहुंची. इस ट्रेन का निर्धारित समय 9:25 पर है और यह 9:54 पर करीमुद्दीनपुर स्टेशन पर पहुंची.

दूसरी ट्रेनें नहीं हुईं प्रभावित

करीमुद्दीनपुर स्टेशन मास्टर अनिल कुमार ने इस संबंध में बताया कि निर्धारित समय से आधे घंटे देर से सारनाथ ट्रेन करीमुद्दीनपुर स्टेशन पर पहुंची और 9:55 पर उसे गंतव्य के लिए रवाना किया गया. इससे न कोई दुर्घटना हुई और न कोई ट्रेन ही इसके चलते प्रभावित रही.

आधे घंटे लेट रही ट्रेन

इस संबंध में पूछे जाने पर ट्रेन के गार्ड आनंद कुमार ने बताया कि टेक्निकल कारणों से ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई थी. जिसे जल्द ही ठीक कर लिया गया. इस बीच लगभग आधे घंटे का समय लगा. आधे घंटे विलंब से यह ट्रेन करीमुद्दीनपुर स्टेशन पहुंची.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *