Top 10 Sports News: भारत-इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच बारिश के कारण ड्रॉ, लियोनेल मेसी फ्रांस के फुटबॉल क्लब से खेलेंगे

0
141
Top 10 Sports News : टोक्यो में सिंधु ने तोड़ी गोल्ड की उम्मीद, बट्ट ने सैमसन को बताया आलसी बल्लेबाज


TOP 10 Sports News: खेल जगत से जुड़ी 8 अगस्त की बड़ी खबरें

भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच (IND vs ENG 1st Test) पांचवें और अंतिम दिन रविवार को बारिश के चलते ड्रॉ समाप्त हुआ. दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी (Lionel Messi) बार्सिलोना छोड़ने के बाद फ्रांस के फुटबॉल क्लब पेरिस सेंट जर्मेन (PSG) से खेलने की तैयारी कर रहे हैं.

नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच (IND vs ENG 1st Test) पांचवें और अंतिम दिन बारिश के चलते ड्रॉ समाप्त हुआ. मैच में पांचवें दिन रविवार को कोई गेंद नहीं फेंकी जा सकी. दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी (Lionel Messi) को नया क्लब मिल गया है और अब वह स्पेन से फ्रांस जाने की तैयारी कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेसी का फ्रांस के फुटबॉल क्लब पेरिस सेंट जर्मेन (PSG)  के साथ 3 साल का करार हुआ है.

बारिश और खराब मौसम के कारण भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज के पहले टेस्ट मैच में पांचवें दिन रविवार को खेल नहीं हो सका. नॉटिंघम में इस मुकाबले में अंतिम दिन कोई गेंद नहीं फेंकी जा सकी जिससे यह ड्रॉ समाप्त हुआ. पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में भारत के गेंदबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया और इंग्लैंड की पहली पारी 183 रन पर समेटी. इसके बाद विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम ने अपनी पहली पारी में 278 रन बनाए और 95 रन की बढ़त हासिल की. इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 303 रन बनाए जिसमें कप्तान जो रूट (109) का शतक खास रहा. भारत को जीत के लिए 209 रन का लक्ष्य मिला. चौथे दिन का खेल खत्म होने तक उसने एक विकेट खोकर 52 रन बना लिए थे और उसे अंतिम दिन केवल 152 रन की जरूरत थी. हालांकि बारिश के कारण जीत उसके हाथ से फिसल गई. सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच लॉर्ड्स मैदान पर 12 अगस्त से खेला जाएगा.

दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी को नया क्लब मिल गया है और अब वह स्पेन से फ्रांस जाने की तैयारी कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेसी का फ्रांस के फुटबॉल क्लब पेरिस सेंट जर्मेन (PSG) के साथ करार हुआ है. मेसी का PSG के साथ तीन साल का करार हुआ है और उसमें एक साल और बढ़ाने का विकल्प भी है. बता दें पेरिस सेंट जर्मेन मेसी को प्रति सीजन 35 मिलियन यूरो यानि 305 करोड़ रुपये सैलरी देगा.

कोविड-19 महामारी के बीच आयोजित हुए टोक्यो ओलंपिक खेलों का रविवार को समापन हो गया. इन खेलों में भारत के खिलाड़ियों ने भी इतिहास रचा और अब तक के सबसे ज्यादा पदक जीते. इतना ही नहीं, नीरज चोपड़ा ने देश को एथलेटिक्स का पहला गोल्ड भी दिलाया. भारत ने इन खेलों में कुल 7 पदक जीते जो उसका ओलंपिक में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. समापन समारोह एक वीडियो के साथ शुरू हुआ जिसमें 17 दिन की स्पर्धाओं का सार था. ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले रेसलर बजरंग पूनिया ने तिरंगा उठाया और समापन समारोह में हिस्सा लिया. उनके साथ कुछ और भारतीय खिलाड़ी भी मौजूद थे जो सेल्फी लेते नजर आए.

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम को उस वक्त निराशा का सामना करना पड़ा जब मुकाबला बारिश और खराब मौसम के कारण ड्रॉ समाप्त हुआ. भारतीय टीम जीत के बेहद करीब थी. पांचवें दिन उसे महज 157 रनों की दरकार थी और उसके हाथ में 9 विकेट थे. मैच ड्रॉ होने के बाद कप्तान विराट कोहली ने भी अपनी निराशा जाहिर कर दी. विराट ने कहा, ‘हम सोच रहे थे कि तीसरे और चौथे दिन बारिश होगी लेकिन ये पांचवें दिन आई जब हम लक्ष्य को हासिल करने वाले थे. हम मजबूत शुरुआत करना चाहते थे और पांचवें दिन हमें लगा कि हमारे पास पूरा मौका था. हम इस मैच में अच्छी स्थिति में थे और ये शर्म की बात है कि पांचवें दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. हमने चौथे दिन खेल खत्म होने तक 50 रन बना लिए थे जो कि हमारे लिए सकरात्मक चीज थी. हम बचने की कोशिश नहीं कर रहे थे बल्कि हम कमजोर गेंद मिलते ही उसे बाउंड्री पार भी पहुंचा रहे थे.’

भारत के स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा को ओलंपिक में पहले एथलेटिक्स स्वर्ण पदक दिलाने का इनाम उनकी नौकरी में भी मिल सकता है. टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचने को लेकर नीरज को भारतीय सेना में प्रमोशन मिलने की संभावना है. भारतीय सेना में 4-राजपूताना राइफल्स के सूबेदार नीरज चोपड़ा को उनकी शानदार खेलकूद प्रतिभा को लेकर प्रतिष्ठित विशिष्ठ सेवा पदक प्रदान किया गया है.

टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले ही टेस्ट मैच में अपनी गेंद से आग उगली. इंग्लैंड के मंझे हुए बल्लेबाज अपनी ही धरती पर भारतीय तेज गेंदबाजों के सामने पानी भरते दिखाई दिए. खासतौर से जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने इंग्लिश बल्लेबाजों को काफी तंग किया. हिंदुस्तान की पेस बैटरी देख पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक इसके मुरीद हो गए हैं. इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल पर भारतीय तेज गेंदबाजों की जमकर तारीफ की. इंजमाम उल हक ने कहा कि उन्होंने हिंदुस्तान में कभी ऐसे तेज गेंदबाज नहीं देखे. इंजमाम बोले, ‘बुमराह ने पहली पारी में चार विकेट लिये और इंग्लैंड बैकफुट पर चला गया. पहली पारी में जो रूट ने अर्धशतक जरूर लगाया लेकिन बुमराह ने उन्हें कभी चैन की सांस नहीं लेने दी. मोहम्मद सिराज और शमी ने भी कमाल की गेंदबाजी की. मैंने इस तरह के भारतीय तेज गेंदबाज नहीं देखे.’

स्टार रेसलर बजरंग पूनिया ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता और देश को गर्व करने का मौका दिया. जब वह ओलंपिक के समापन समारोह में तिरंगा लेकर चले तो करोड़ों भारतीय खेलप्रेमी इसे देखकर भावुक भी हो गए. बजरंग ने बाद में कहा कि वह पेरिस में होने वाले 2024 ओलंपिक खेलों में पदक का रंग बदलने की कोशिश करेंगे. उन्होंने मेडल के साथ तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ‘टोक्यो का अंत कांस्य पदक के साथ हुआ. मैं सभी का धन्यवाद देना चाहता हूं कि सभी ने मेरा समर्थन किया है. खेल मंत्रालय, भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) , भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) और कुश्ती महासंघ (WFI) के अलावा देशवासियों का तहे दिल से धन्यवाद करता हूं. आप के बिना मैं कुछ भी नहीं हूं. ऐसे ही समर्थन करते रहिए और मैं 2024 में मेडल का रंग बदलने की कोशिश करूंगा.’

टोक्यो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट मीराबाई चानू का पेरिस ओलंपिक में अपने पदक का रंग बदलने का सपना अधूरा रह सकता है, क्योंकि इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी (IOC) को किसी खेल को ओलंपिक कार्यक्रम से हटाने के लिए अधिक अधिकार दिए गए हैं. इसकी पहली गाज वेटलिफ्टिंग पर गिर सकती है. वेटलिफ्टिंग और मुक्केबाजी की संचालन व्यवस्था लंबे समय से विवादों से घिरी रही है. वेटलिफ्टिंग के साथ डोपिंग की समस्या भी जुड़ी हुई है और ऐसे में इस खेल पर पेरिस में 2024 खेलों से बाहर किए जाने का खतरा मंडरा रहा है.

टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले तीरंदाज प्रवीण जाधव के परिवार को लगातार धमकियां मिल रही हैं. उनका परिवार महाराष्ट्र के सतारा के एक गांव में रहता है. जहां उनका माता-पिता घर बनाना चाहते हैं. पड़ोसी उन्हें ऐसा करने से रोक रहे हैं. इसी वजह से प्रवीण के परिवार को मकान का निर्माण कार्य भी रोकना पड़ा. इससे परिवार का परिवार काफी आहत है. उनके पिता ने कहा कि अगर उन्हें गांव में मकान नहीं बनाने दिया जाता है, तो वो गांव छोड़ देंगे.

दुनिया के महानतम टेनिस खिलाड़ियों में शुमार स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर 40 वर्ष के हो गए हैं. लगातार 22 साल से टेनिस कोर्ट में धमाल मचा रहे फेडरर ने भले ही पिछले तीन साल से कोई ग्रैंड स्लैम खिताब नहीं जीता है लेकिन कमाई के मामले में वह राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच से काफी आगे हैं. स्विस स्टार ने इन 3 सालों में करीब 2150 करोड़ रुपये कमाए हैं. फोर्ब्स की सबसे ज्यादा कमाई करने वाले टॉप-10 एथलीट्स की लिस्ट में साल 2021 में सातवें नंबर पर थे. टॉप-10 में फेडरर ही एकमात्र टेनिस प्लेयर हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here