IND vs ENG: लॉर्ड्स में कभी सचिन-गावस्कर जैसी बल्लेबाजी नहीं करना चाहेंगे विराट कोहली!

0
157
IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ पहले 3 टेस्ट में बनेंगे खूब रन, पूर्व भारतीय कप्तान ने बताई बड़ी वजह


नई दिल्ली. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को एक समय शतक मशीन कहा जाने लगा था. विराट कोहली जहां जाते थे शतक जड़ देते थे लेकिन अब भारतीय कप्तान एक शतक के लिए तरस रहे हैं. विराट कोहली पिछले दो सालों से शतक नहीं लगा पाए हैं और अब इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट (India vs England, 2nd Test) में उनके पास शतक के सूखे को खत्म करने का मौका होगा. बता दें सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज कभी लॉर्ड्स (Lords Test) में टेस्ट सैकड़ा नहीं लगा पाये और अब सबकी नजरें विराट कोहली पर होंगी जो इस मैदान पर अबतक शतक नहीं लगा पाए हैं.बता दें कोहली पिछले नौ टेस्ट मैचों की 15 पारियों में शतक लगाने में असफल रहे हैं. उनके नाम पर टेस्ट क्रिकेट में 27 शतक दर्ज हैं लेकिन नवंबर 2019 के बाद से वह तिहरे अंक में पहुंचने के लिये तरस रहे हैं. इसके बाद उन्होंने जो 15 पारियां खेली हैं उनमें 345 रन बनाये हैं और उनका औसत 23.00 है.

भारत को गुरुवार से दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में लॉर्ड्स के उस मैदान पर इंग्लैंड का सामना करना है जिसमें भारतीय दिग्गज रन बनाने के लिये जूझते रहे. गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने इस मैदान पर 10 पारियों में 340 रन बनाये हैं जिसमें दो अर्धशतक शामिल हैं जबकि तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने यहां जो 9 टेस्ट पारियां खेली हैं उनमें वह कभी 50 रन तक भी नहीं पहुंचे. कोहली ऐसे किसी रिकॉर्ड से बचना चाहेंगे. भारतीय कप्तान ने लॉर्ड्स में अब तक चार पारियां खेली हैं जिनमें उन्होंने 65 रन बनाये तथा उनका उच्चतम स्कोर 25 रन है. कोहली नॉटिघम में पहले टेस्ट मैच की एकलौती पारी में पहली गेंद पर आउट हो गये थे और लॉर्ड्स में वह भारत को तीसरी जीत दिलाने के लिये बड़ा स्कोर बनाने को बेताब होंगे.

पुजारा ने 32 पारियों से नहीं लगाया शतक
भारत के एक और भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा की कहानी भी कोहली जैसी ही है. पुजारा ने पिछली 32 पारियों से टेस्ट शतक नहीं लगाया है. इस बीच उन्होंने 27.64 की औसत से 857 रन बनाये हैं. लॉर्ड्स में उन्होंने भी दो मैच खेले हैं जिनकी चार पारियों में वह केवल 89 रन बना पाये और उनका उच्चतम स्कोर 43 रन है. असल में भारत की वर्तमान टीम में अजिंक्य रहाणे को छोड़कर कोई भी अन्य बल्लेबाज लॉर्ड्स में टेस्ट मैचों में शतक नहीं लगा पाया है. रहाणे ने 2014 में इस ऐतिहासिक मैदान पर पहली पारी में 103 रन बनाकर भारत की 95 रन से जीत में अहम भूमिका निभायी थी.

IND vs ENG: लॉर्ड्स में भारत और इंग्लैंड के बीच 12 अगस्त से दूसरा टेस्ट, जानिए- पांच दिन कैसा रहेगा मौसम

भारत के चोटी के छह बल्लेबाजों में रोहित शर्मा और ऋषभ पंत लॉर्ड्स में पहली बार टेस्ट मैच खेलेंगे जबकि केएल राहुल ने यहां 2018 में जो एकमात्र टेस्ट मैच खेला था उसकी दोनों पारियों में उन्होंने कुल मिलाकर 18 रन बनाये थे. वैसे भारत के दिलीप वेंगसरकर के नाम पर लॉर्ड्स में लगातार तीन शतक जमाने का रिकॉर्ड है. उन्होंने इस मैदान पर 1979 में 107 रन बनाकर शुरुआत की और फिर इसके बाद 1982 में 157 और 1986 में नाबाद 126 रन की उम्दा पारियां खेली थी. भारत ने 1986 में उनकी शानदार पारी के दम पर पहली बार लॉर्ड्स में टेस्ट मैच जीता था. भारत ने अब तक लॉर्ड्स में कुल 18 टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें केवल दो मैचों में उसे जीत मिली जबकि 12 मैच उसने गंवाये हैं. बाकी 4 मैच ड्रॉ रहे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here